जे.एन.पी.ए. सागर डायरैक्टर ने जबलपुर जोन मे पदस्थ

0
11

जबलपुर. परिवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक एवं उप निरीक्षकों से ट्रेनिंग के सम्बंध में की चर्चा, लिया फीडबैक आज दिनॉक 15-1-2020 को प्रात 10-30 बजे पुलिस कन्ट्रोलरूम जबलपुर में श्री जी. जनार्दन (भा.पु.से.) डायरेक्टर जे.एन.पी.ए. सागर द्वारा पुलिस अधीक्षक पीटीएस इदौंर श्री टी.के. विद्धार्थी , पुलिस अधीक्षक पीटीएस उज्जेन श्री विरेन्द्र िंसह, एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह की उपस्थिति में जबलपुर जोन मे पदस्थ 79 परिवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक एवं परिवीक्षाधीन उप निरीक्षकों से ट्रेनिंग नीड एनालायसिस के संदर्भ में बैठक ली गयी, सभी से विस्तार से चर्चा करते हुये फीड बैक फार्म भराया गया।
श्री जी. जनार्दन (भा.पु.से.) डायरेक्टर जे.एन.पी.ए. सागर ने कहा कि आप सभी ट्रेनिंग के दौर से गुजर चुके हैं, प्रशिक्षण के दौरान आपने क्या दिक्कतें महसूस की, ट्रेनिंग इंस्टीट््यूट में क्या क्या कमियॉ हैं, प्रशिक्षण को और कैसे बेहतर किया जा सकता है, को जानना आज आपकी बैठक लेने का प्रमुख उद्देश्य है ताकि आने वाले दिनों में पुलिस ट्रेनिंग इंस्ट्टयूटो में बेहतर ट्रेनिंग दी जा सके। बैठक में उपस्थित परिवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक एवं परिवीक्षाधीन उप निरीक्षकों ने कई महत्वपूर्ण सुझाव दिये। इसके साथ ही आपने कहा कि प्रशिक्षण एक महत्वपूर्ण पडाव होता है, जिसमें आपको प्रतिदिन विवेचना से सम्बंधित नये-नये तरीके सीखने को मिलते हैं, जब आपको कानून का अच्छा ज्ञान होगा तभी आप निर्भीक होकर कोई भी कार्यवाही कर सकेंगे। जब थाने कोई भी व्यक्ति आता है तो वह किसी न किसी प्रकार की समस्या से पीडित होता है, पीडित व्यक्ति की समस्या को ध्यान से सुनें और तत्काल विधिसम्मत जो भी कार्यवाही बनती है करते हुये उसे राहत पहुंचायें यदि तुरंत न्याय संगत कार्यवाही करते हुये आरोपी की गिरफ्तारी करते है तो पीडित व्यक्ति को निश्चित ही राहत मिलेगी,। आपको लीडर शिप एवं मैनपावर मैनेजमेंट आना चाहिये। आप क्षेत्र में भ्रमण करते हुये क्षेत्र मे रहने वाले राजनैतिक एवं गणमान्य नागरिकों से अधिक से अधिक संवाद करें इससे कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित होने पर उत्पन्न स्थिति को नियंत्रित करने मे काफी मदद मिलेगी।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) ने कहा कि यदि अभी आपने नहीं सीखा तो आगे कभी भी नहीं सीख पायेंगे। इन्वेस्टिगेशन आपका मुख्य कार्य है, अपराध की विवेचना में आपका राईटिंग वर्क स्ट्रांग होना चाहिये जहॉ भी कोई कठिनाई आती है, अपने वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर समस्या का समाधान करें। आने वाले समय में आप थाना प्रभारी होंगें, उस दौरान आपके लिये दो महत्वपूर्ण पहलू अपराध विवेचना एवं कानून व्यवस्था बनाये रखना होंगे। आपको क्षेत्र के असामाजिक तत्वों एवं अच्छे लोगो की पहचान करना आना चहिये, सभी समस्याओं का समाधान लोकतांत्रित तरीके से नियमानुसार करें, आपको कहीं भी कोई परेशानी नहीं आयेगी। छोटी से छोटी घटना, की सूचना मिलने पर तत्काल पहुॅचे एवं विधि सम्मत कार्यवाही करें, किसी भी घटना को अनदेखा न करें, कार्यवाही निष्पक्ष हो इस बात का विशेष ध्यान रखें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here