आयुष्मान योजना के लाभार्थियो से राकेश सिंह ने किया संवाद

0
55

जबलपुर। गरीबों के इलाज के संबंध में केंद्र सरकार की आयुष्मान योजना एक क्रांतिकारी कदम साबित होती जा रही है। इससे लोगों को लाभ पहुंच रहा है खासतौर से उन लोगों को जिनकी पहुंच अच्छे उपचार तक नहीं होती थी। केंद्र सरकार द्वारा देश की पचास प्रतिशत आबादी के स्वास्थ्य के लिये लागू आयुष्मान योजना गरीब परिवारो के लिये वरदान साबित हो रही है और आने वाले समय में अधिक से अधिक लोग इसका लाभ ले ऐसा हमारा प्रयास है यह बात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवँ सांसद श्री राकेश सिंह ने जबलपुर संसदीय क्षेत्र के अन्तर्गत निवासरत आयुष्मान योजना के लाभार्थियो से संवाद कार्यक्रम के अवसर पर दिये।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री सिंह ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये कहा आयुष्मान योजना का लाभ लेकर आप सभी ने समाज को संदेश देने का काम किया है और अपने और अपने परिवार के साथ खड़े रहकर उनका इलाज करा रहे है, आपकी बीमारी में आर्थिक मदद हेतू के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान योजना लागू की। देश की जनता के स्वास्थ्य से जुड़ी योजना जो 70 सालो में किसी सरकार ने लागू नही की और न ही जनता के स्वास्थ्य की चिंता की उसे हमारे सम्वेदनशील प्रधानमंत्री श्री मोदी ने लागू किया और प्रसन्नता की बात है कि इस योजना के लागू होने के 1 साल में ही 50 करोड़ लोग इसमे सूचीबद्ध किये जा चुके है और अभी तक 50 लाख मरीजो ने इसका लाभ लिया है।

श्री सिंह ने कहा देश के पिछड़ने का बड़ा कारण गरीबी है और गरीबी के साथ यदि बीमारी लग जाये तो यह अभिशाप जैसा लगता है और ऐसे विपरीत समय में यदि आपको सरकार मदद करे तो यह काफी हद तक बीमारी से लड़ने सहायक होता है और यदि देश की जनता का स्वास्थ्य अच्छा हो तो देश उन्नति की ओर आगे जाता है साथ ही जनता का अपनी सरकार और लोगो के प्रति विश्वास पैदा होता है।
इस अवसर पर आयुष्मान योजना के लाभार्थियो ने अपने अनुभव प्रदेश अध्यक्ष के साथ साझा किये और इसमे और सुधार हेतू अपने सुझाव भी दिये।
इस अवसर पर नगर अध्यक्ष श्री जीएस ठाकुर, विधायक श्री अशोक रोहाणी, महापौर डॉ स्वाती गोडबोले के साथ बड़ी संख्या में आयुष्मान योजना के लाभार्थी उपस्थित थे।

2 भारत के नवनिर्माण में लौह पृरुष सरदार पटेल की महत्वपूर्ण भूमिका:- राकेश सिंह

जबलपुर । आजादी के बाद भारत के बिखरे हुए राजनीतिक और भौगोलिक परिदृश्य को यदि किसी ने एक सूत्र में पिरोने का कार्य किया है। तो वे थे लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल। यह उद्गार व्यक्त किए भाजपा सांसद राकेश सिंह ने।अवसर था लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती का। इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा बैठक आयोजित की गई। जिसमें सरदार पटेल को श्रद्धांजलि दी गई साथ ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवँ साँसद श्री राकेश सिंह एवँ जबलपुर सम्भाग के संगठन मंत्री श्री शैलेंद्र बरुआ की उपस्थिति में आगामी 4 नवम्बर को होने वाले प्रदेश व्यापी किसान आक्रोश आन्दोलन की रूपरेखा तैयार की गई।

बैठक के प्रारंभ में सभी मँचासीन अतिथियो ने लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती पर उनके तैल चित्र पर पुष्पंजली आर्पित कर उन्हे नमन किया।
बैठक को सम्बोधित करते हुये श्री सिंह ने कहा कि आज देश के पहले ग्रहमंत्री श्री सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती है और सरदार पटेल के व्यक्तित्व और कृतित्व से हम सभी भलीभांति परचित है और हम जानते है कि नये भारत के निर्माण में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है क्योकिं उन्होने न सिर्फ देश की 500 से अधिक रियासतो को एक करने का कार्य किया अपितु उन सभी को नये भारत से जोड़ने का प्रयास भी किया। श्री सिंह ने कहा सरदार पटेल के योगदान को भुलाया नही जा सकता किन्तु देश में लम्बे समय तक शासन करने वाले एक राजनैतिक दल ने उन्हे याद करने की कोशिश भी नही की और उनके इस महत्वपूर्ण योगदान को भी जनता तक पहुँचाने का काम भी नही किया किन्तु देश में प्रधानमंत्री बनने के बाद श्री नरेंद्र मोदी ने न सिर्फ उनके योगदान को याद किया अपितु जनता तक उनके कृतित्व को पहुँचाने का कार्य भी किया।
बैठक को संबोधित करते हुये भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री सिंह ने कहा प्रदेश के किसान बदहाल हैं, लेकिन प्रदेश सरकार को कतई उनकी चिंता नहीं है। बारिश से बर्बाद हुई फसलों का तत्काल मुआवजा दिया जाना चाहिए था, नहीं मिला। बिजली का बिल आधा करने की बात कही थी, लेकिन किसानों के बिजली बिल बढ़कर आ रहे हैं। किसान कर्जमाफी के झूठे वादे का भी शिकार हुए हैं। इसलिए भारतीय जनता पार्टी ने यह तय किया है कि किसानों की उपेक्षा के खिलाफ पार्टी 4 नवंबर को किसान आक्रोश आंदोलन करेगी, जिसमें प्रदेश के किसान और पार्टी कार्यकर्ता एकत्रित होकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे तथा बिजली के बढ़े हुए बिलों की होली जलाई जायेगी।
प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश सिंह ने कहा कि प्रदेश में कमलनाथ सरकार लगातार किसानों की अनदेखी कर रही है। विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने किसानों से कर्जा माफ करने का वादा किया था, लेकिन कर्जमाफी नहीं हुई। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी यह स्वीकार किया है कि कर्जामाफी नहीं हुई है। भीषण बारिश के कारण फसलों को नुकसान हुआ, लेकिन किसानों की सुध लेने के लिए मुख्यमंत्री या सरकार का कोई मंत्री उनके खेतों तक नहीं पहुंचे। ना सर्वे हुआ, न मुआवजा मिला। बिजली के बिल भी अनाप-शनाप आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की इस बदहाली और सरकारी उपेक्षा के प्रति आक्रोश व्यक्त करने के लिए 4 नवंबर को प्रदेश के प्रत्येक जिले में किसान आक्रोश आंदोलन किया जायेगा।
भाजपा नगर अध्यक्ष श्री जीएस ठाकुर ने बताया जबलपुर में 4 नवम्बर को प्रातः 11 बजे नौदरा ब्रिज से किसान आक्रोश आंदोलन प्रारंभ होगा जो पैदल मार्च करते हुये कलेक्टरेट कार्यालय पहुचेंगे आंदोलन का नेतृत्व पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष साँसद श्री नन्दकुमार सिंह चैहान करेंगे।
भाजपा की बैठक को पार्टी के संभागीय संगठन मंत्री श्री शैलेन्द्र बरुआ ने भी संबोधित किया।
बैठक के पश्चात सभी कार्यकर्ताओं ने सरदार पटेल के चित्र पर पुष्पंजली अर्पित की।
बैठक का संचालन महामंत्री राजेश मिश्रा एवँ आभार महामंत्री संदीप जैन ने व्यक्त किया। बैठक में नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर, ग्रामीण अध्यक्ष ओमप्रकाश पटेल, विधायक अजय विश्नोई, अशोक रोहाणी,सुशील तिवारी इन्दु, युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे मँचासीन थे।
बैठक में पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह, नरेंद्र त्रिपाठी, प्रभात साहू, सुरेश देशपांडे, आनंद बर्नार्ड, विजयराज पटेरिया, अशीष दुबे, शिव पटेल, निगम अध्यक्ष सुमित्रा वाल्मिकी के साथ जिला पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष, मोर्चा अध्यक्ष, प्रकोष्ठ संयोजक, पार्षद उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here